आज भी जीवित है भगवान श्रीराम के वंशज, इतनी संपत्ति के हैं मालिक, जीते हैं रॉयल लाइफ

आज भी जीवित है भगवान श्रीराम के वंशज, इतनी संपत्ति के हैं मालिक, जीते हैं रॉयल लाइफ

रामायण में आज तक आपने भगवान राम के बारे में बहुत कुछ सुना होगा और लोग आज भी भगवान राम की पूजा करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि आज भी इस धरती पर भगवान राम के वंशज हैं। हो सकता है आपको पता ना हो और आपको यकीन ना हो लेकिन ये सच है। आज हम आपको जो बताने जा रहे हैं वह हैरान करने वाला भी है और सच भी।

जी हाँ, जैसा कि आप सभी ने बचपन से अयोध्या में जन्म लेने वाले भगवान राम का इतिहास तो सुना ही होगा, लेकिन शायद आप नहीं जानते होंगे कि आज भी आप चाहें तो भगवान राम के वंश से मिल सकते हैं। सेडियंस ने रामायण को बिताया है, लेकिन फिर भी उनके वंशज आज भी पृथ्वी पर रह रहे हैं। तो अब आप सोच रहे होंगे कि अगर यह धरती पर है तो कहां है और कैसी दिखती है? तो आज हम आपके सभी सवालों के जवाब देने जा रहे हैं।

राम के जीवन और शक्ति को महर्षि वाल्मीकि द्वारा लिखित संस्कृत महाकाव्य रामायण के रूप में वर्णित किया गया है। गोस्वामी तुलसीदास ने अपने जीवन को केंद्र में रखते हुए प्रसिद्ध भक्ति महाकाव्य श्री रामचरितमानस की भी रचना की है। राम बहुत सम्मानित और आदर्श थे।

विशेष रूप से उत्तर भारत में वे पुरुषोत्तम शब्द से भी सुशोभित हैं। रामायण के अनुसार अपनी सौतेली माँ के वचन के कारण रामजी को 14 वर्ष का वनवास झेलना पड़ा था। रावण के 14 साल के वनवास के बाद, भगवान राम अयोध्या लौट आए और वहां के राजा बने। लेकिन, इसके बाद की कहानी शायद ही किसी को पता होगी।

बता दें कि भगवान राम का वंश आज भी राजस्थान के जयपुर में एक शाही परिवार के रूप में मौजूद है। हमें यह भी उल्लेख करना चाहिए कि इस शाही परिवार की राजमिनी पद्मिनी देवी ने कहा है कि उनके पति भवानी सिंह भगवान राम के पुत्र कुश के 309 वें वंशज थे।

इस बात का खुलासा तब हुआ जब खुद राजमाता पद्मिनी देवी ने अपने इंटरव्यू में कहा कि उनका परिवार भगवान राम के पुत्र कुश के परिवार से है। राजमाता पदिनी देवी के अनुसार, उनके पति भवानी सिंह भगवान राम के पुत्र कुश के 309वें वंशज थे।

आपको बता दें कि महाराजा भवानी सिंह और पद्मिनी देवी की शादी साल 1912 में हुई थी और उनकी एक बेटी भी है। उन्होंने सवाई माधोपुर के बीजेपी विधायक नरेंद्र सिंह से शादी की है।

वहीं राजमाता पद्मिनी देवी की शोहरत ऐसी है कि लोग अक्सर राजमाता पद्मिनी से मिलने के लिए बॉलीवुड के कुछ बड़े सितारों के पास जाते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि पद्मिनी की बेटी दीया कुमारी के बेटे पद्मनाभ सिंह भारत की पोलो टीम के बहुत बड़े खिलाड़ी हैं।

हालांकि, कई राजा और महाराजा हैं जिनके पूर्वज श्री राम थे। राजस्थान में कुछ मुस्लिम समूह कुशवाहा वंश के हैं। मुगल काल में इन सभी का धर्म परिवर्तन होना था, लेकिन ये सभी आज भी खुद को भगवान श्रीराम के वंशज मानते हैं।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *